भारतीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की ब्रिटेन और तुर्की की सफल और ऐतिहासिक यात्रा की झलकियां

वेम्बली स्टेडियम, लंदन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण के मुख्य अंश (Modi At Wembley)

भारतीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 12 नवम्बर 2015 को वेम्बली स्टेडियम, लंदन में अपने भाषण में कहा कि अब हम दुनिया से मेहरबानी नहीं, बराबरी का स्थान चाहते हैं| इसके साथ ही साथ मुख्यत निम्नलिखित बाते कही जो इस प्रकार है:-

Narendra Modi UK Tour, G20 Summit 2015

Highlights of PM Shri Narendra Modi’s speech at Wembley Stadium, London

– विश्व आज भारत को शक्ति और संभावनाओ की भूमि के रूप में देख रहा है|

– भारत की विविधता ही हमारी आन-बान-शान और शक्ति है|

– मैंने आने वाले 1000 दिनों में 18,000 गांवो में बिजली पंहुचाने का संकल्प लिया है|

– सूर्य शक्ति से लाभान्वित होने वाले 102 सुर्यपुत्र राष्ट्रों को एकजुट करने का बीड़ा उठाया है|

भारत-यूनाइटेड किंगडम शिखर सम्मेलन 2015 (UK-India Summit 2015) के अवसर पर संयुक्त वक्तव्य

  • ब्रिटिश पार्लियामेंट (British Parliament) को संबोधित करने वाले पहले प्रधानमंत्री बने श्री नरेंद्र मोदी|
  • भारत-यूके के बीच 9 अरब पाउंड (90,529 करोड़ रू.) के व्यापारिक समझोते|
  • भारत का नंबर 1 व्यापार भागीदार बनना चाहता है : यूनाइटेड किंगडम|
  • भारत विश्वभर के लिए उम्मीद और अवसर का सबसे चमकदार केंद्र बिंदु है|
  • सतत विकास के लिए एजेंडा 2030 का प्रभावी क्रियान्वन हो|

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की आतंकवाद को खत्म करने के लिए 10 सूत्रीय योजना Turkey G20 (2015)

G20 में काला धन और भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने संबोधन में कहा की “भ्रष्टाचार और कालेधन पर मेरी सरकार ने जीरो टोलरेंस की निति अपनाई है|” सूफी परंपरा अगर बलवान हुई होती तो विश्व में आतंकवाद की समस्या नहीं होती| समाज के मूलभूत मूल्यों के खिलाफ किसी भी बात को भारत स्वीकार नहीं करता| आतंकवाद से लड़ने के लिए अंतरराष्ट्रीय एकजुटता समय की मांग है|

भारतीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे आकार और पैमाने को देखते हुए भारत वैश्विक विकास (Global Growth) और स्थिरता (Stability) के एक स्तंभ बन सकता है|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जलवायु परिवर्तन (Climate Change), आतंकवाद (Terrorism), शरणार्थी (Refugees), वैश्विक अर्थव्यवस्था में कमजोर विकास (Weak Growth in Global Economy), तुर्की (Turkey) में आयोजित जी -20 शिखर सम्मेलन में विकास और रोजगार (Growth and Employment), निवेश रणनीतियों (Investment Strategies), व्यापार (Trade), ऊर्जा और वित्तीय क्षेत्र लचीलापन (Energy and Financial Sector Resilience) के लिए रणनीति के मुद्दों को उठाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *